योग के बारे में (yoga)

त्वचा और चेहरे में प्राकृतिक निखार के लिए योग

सौंदर्य प्रसाधनो के विज्ञापन में चमकते चेहरों को प्रशंसा की नज़रों से देखते हुए हम अक्सर सोचते हैं कि काश हमारी त्वचा भी ऐसी ही जवान व ख़ूबसूरत होती। लेकिन यह कोई काल्पनिक सपना नहीं है। अब आप भी अपनी स्वस्थ, चमकती त्वचा को दर्शा कर ध्यान आकर्षित कर सकते हैं। और खुशख़बरी यह है: कोई रासायनिक तत्व और महँगे सौंदर्य प्रसाधनो के बिना आप ऐसी त्वचा पा सकते है सिर्फ़ योग से और ऐसी चमकती त्वचा जो सालों तक संजोकर रखी जा सकती है। परंतु उपायों की ओर जाने से पूर्व , पहले हमें त्वचा की समस्याओं के बारे में जानना होगा जैसे झुर्रियाँ और काले धब्बे आदि के कारण।

त्वचा की समस्याओं के सामान्य कारण | Common causes of skin problems

  • कुछ महिलाओं की त्वचा में समय से पूर्व ही झुर्रियाँ पड़नी शुरु हो जाती है क्योंकि उनका रहन सहन का तरीका अस्वस्थ आदतों जैसे सिगरेट, शराब, ड्रग्स और खाने पीने की ग़लत आदतें तथा तनाव प्रमुख भूमिका निभाता है।
  • कील मुहासें या झाइयाँ प्रत्येक उम्र की स्त्रियों के लिए एक सामान्य समस्या है।कभी कभी यह हॉर्मोन्स के असंतुलन के कारण भी हो जाती है। इसके लिए अधिक चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि यह समय के साथ अपने आप ही ठीक हो जाती है।
  • असंतुलित पाचन भी मुहासों का कारण है।

योग सीखें और बीमारियों से रहें दूर

 

​उत्तम रक्त परिसंचरण के लिए योग आसन​ | Yoga asanas for good blood circulation:

इन आसनों के अभ्यास से चेहरे और सिर के भाग में रक्त परिसंचरण बढ़ता है। ये आपको प्राकृतिक रूप से सुन्दर त्वचा देता है।

Bhujangasan

पीठ और कंधे से कड़ापन कम करता है। आपको विश्राम देकर आपकी मनोदशा को अच्छा करता है। आपकी त्वचा को चिकना और लचीला करता है।

Matsyasana

सांस की गहराई बढ़ाता है, हार्मोन के असंतुलन ठीक करता है और मांसपेशियों को आराम देता है। त्वचा अधिक लचीली और दृढ हो जाती है।

 
Halasana

चेहरे और सिर में रक्त प्रवाह को बढ़ाता है। परिणामस्वरूप त्वचा में निखार आ जाता है।

Sarvangasana

सर्वांगासन सिर में रक्त के प्रवाह को बढाकर त्वचा की चमक में वृद्धि करता है। साथ ही ये दानों और मुहांसों से मुक्ति दिलाने में मदद करता है।

 
Trikonasana

आपके चेहरे और सिर में रक्त प्रवाह में वृद्धि करता है। ऑक्सीजन की अधिक मात्रा में आपूर्ति त्वचा की चमक में वृद्धि के रूप में दिखती है।

Shishuasana

शिशुआसन से भी सिर के हिस्से में रक्त परिसंचरण बढ़ता है और तनाव और थकावट को दूर करता है।

 
 

सभी आसन जिसमें सिर नीचे होता है तंत्रिका तंत्र को उत्तेजित करते है सिर में अधिक ऑक्सीजन और रक्त प्रवाह होता है जिससे हमारा उपापचय और ऊर्जा का स्तर बढ़ता है।

दानों से मुक्ति के लिए योग आसन | Yoga asanas to get rid of acne:

बहुत सी महिलाओं को वयस्क होने पर भी दानो/ मुहांसों की समस्या होती है। तैलीय त्वचा वालों को गर्मियों में ये समस्या काफी बढ़ जाती है।
इसमें सर्वाधिक सहायक प्राणायाम और मार्जन प्रक्रियाएं हैं :

1

शीतली और शीतकारी प्राणायाम

इससे शरीर में ठंडक आती है जो त्वचा को चमकने में सहायक है।

2

शंख प्रक्षालन | Shankh Prakshalan

ये प्रक्रिया भी जलनेति की तरह बहुत प्रभावी है। इसे ६ महीने में एक बार करें।

 

जलनेति प्रक्रिया (श्री श्री योग का भाग है) शारीरिक और भावनात्मक शुद्धिकरण करती है। इसे प्रति दिन कर सकते हैं।

 

पाचन को बेहतर करने के योग आसन​ | Yoga asanas to improve digestion:

सुन्दर त्वचा आपके भीतर के अनुभव को प्रक्षेपित करती है। जब आपका पाचन तंत्र अच्छे से काम करता है, भोजन अच्छे से अवशोषित होता है, अपशिष्ट पदार्थ का उत्सर्जन ठीक से होता है। इस प्रक्रिया में उत्पन ऊर्जा सभी आतंरिक अंगो को अच्छी स्थिति में रखती है। आपकी त्वचा को भी सीधे लाभ मिलता है और येअच्छे से पुष्ट दिखती है और दमकती है।
पाचन को सुचारु करने के लिए कुछ आसन और प्राणायाम:

Pawanmuktasana

अपच को ठीक करने में मदद करता है।

vajrasana
2

वज्रासन | Vajrasana (Kneeling Pose)

शरीर के विषहरण में मदद करता है फलतः पाचन सुचारु होता है।

 
Dhanurasana

धनुरासन तनाव मुक्ति का रामबाण है, पूर्ण विश्राम देता है। ये विश्राम दानों को रोकता है।

Nadi Shodhan

नाड़ी शोधन सहनशीलता बढ़ाता है और स्वस्थ और दमकती त्वचा के विकास के लिए सहायक है।

 
Kapalbhati Pranayama

पेट साफ करने में मदद करता है और शरीर के विषहरण में बहुत उपयोगी है। ये त्वचा को तरोताजा और चमकता हुआ बनाता है।

surya namaskar

सूर्य नमस्कार के कुछ राउंड करने से शरीर से विषहरण होता है साथ ही त्वचा में प्राकृतिक निखार आ जाता है।

 

चेहरे की टोनिंग के लिए योग अभ्यास | Yoga exercises for toning the face:

प्रतिदिन करीब २० मिनट चेहरे का योग अभ्यास करें। अभ्यास चेहरे की मांसपेशियों को कसता है और टोन भी करता है।

  • तनाव काम करने के लिए अपने जबड़ों की मसाज करें।
  • तत्काल आराम के अनुभव के लिए अपनी भौहों को मसाज करें।
  • हल्के हल्के अपने माथे पर अपनी उँगलियों के जोड़ों से मारे और तनाव से मुक्त हों।
  • सुपर ब्रेन योग का उपयोग करें! अपने कानो को विभिन्न दिशाओं में खीचें और घुमाये और तत्काल  ताजगी का अनुभव करें।
  • अपने चहरे की मांसपेशियों के व्यायाम के लिए चूमे और मुस्कराये तकनीक का उपयोग करें ।अपने दोनों होठों को इस प्रकार बनाये जैसे आप किसी शिशु को चूमने जा रहे हैं। फिर जितनी बड़ी मुस्कान हो सकती है करे। इसके सोचने भर से आप मुस्कराने लगे, है ना।

दमकती त्वचा के लिए कुछ और सुझाव ​| Additional tips for a glowing skin:

1. ढेर सारा पानी पीये!

नींबू और शहद को गुनगुने पानी के साथ लेने से शरीर में विषहरण होता है। ये त्वचा को साफ और स्वस्थ रखता है।


2. प्रतिदिन व्यायाम करें

नियमित रूप से तेजी से टहलें। ये आपके चहरे को न जाने वाली चमक और रंगत देगा।


3. स्वास्थ्यप्रद भोजन करें!

  • ताजे फल और सब्जियां खाएं जो विटामिन C के स्रोत हैं। पपीता शुद्धि के लिए अच्छा माना जाता है।
  • आलू काले धब्बे, दाग, धूप की कालिमा आदि को कम करने में काफी प्रभावी है।
  • तले हुए और जंक फ़ूड से बचे।
  • बहुत अधिक मसाले वाले भोजन और अधिक मीठे भोजन से बचे।
  • अपने शरीर की प्रकृति (वात, पित्त और कफ) के अनुरूप आहार ले।

4. अच्छे से आराम करें !

जब शरीर को अच्छे से आराम मिला होता है ये आपके चहरे पर दिखता है। एक अच्छी ८ घंटे की नींद लें।


5. प्राकृतिक चीजों का प्रयोग करें!

  • आयुर्वेदिक फेसिअल पैकेज और स्क्रब का प्रयोग करे। आप श्री श्री आयुर्वेद के विभिन्न उत्पादों से भी चुन सकते हैं। रसायन मुक्त प्राकृतिक जड़ी बूटियों का प्रयोग करे। विटामिन E तेल का प्रयोग कर सकते हैं।
  • दिन भर के काम के बाद लौटने पर चहरे को धोये और इसे नम रखे।
  • दिन में तीन बार अपनी आँखों पर पानी के छीटें मारे।
  • अपने शरीर की प्रकृति के अनुरूप सप्ताह में एक बार तेल से मसाज लें जो शरीर से विषहरण में भी सहायक है।

6. अधिक मुस्कराये!

आपके चहरे के लिए सबसे अच्छा मेकअप आपकी मुस्कराहट है। जितना आप मुस्कराते है उतनी आपकी त्वचा चमकती है। सकारात्मक रहें।


7. ध्यान करें!

दिन में दो बार ध्यान करें। ये आपको भीतर बाहर से चमकने में सहायक है।


नोट: ऊपर बताये सुझाव उपचार नहीं है बस रोकथाम के लिए हैं।

नियमित योग अभ्यास आपके दानों की चिंता को दूरकर आपको दमका देता है।​

जब आप ऐसे ही सुन्दर हैं तो मेकअप किसे चाहिए? अपनी त्वचा को श्री श्री योग पार्ट -१ का उपहार दीजिये।
अधिक जानकारी के लिए हमें लिखे national@srisriyoga.in

 

    योग सीखें और बीमारियों से रहें दूर

    योग कार्यशालाएं श्री श्री योग आसन . प्राणायाम . ध्यान . ज्ञान
    योग सीखें और बीमारियों से रहें दूर